SBA विशेष

स्वास्थ्य-मित्रो! आप एक हों, हम आपके साथ हैं…

मुझे लगता है कि एक तरफ सरकार की स्वास्थ्य नीतियां जिम्मेदार रही हैं लेकिन उसी के समानांतर मुझे यह भी लगता है कि फार्मासिस्टों ने जिस दिन से खुद को बेचना शुरू किया उस दिन से उनकी आवाज दबती चली गयी। आप मित्रो को यह पता लगना होगा कि वह कौन पहला फार्मासिस्ट रहा होगा जिसने अपना सर्टीफिकेट चंद रुपयों की लालच में गिरवी रखा होगा। इन्हीं चंद रुपयों की लालच ने आपको कमजोर कर दिया। आप कभी एक नहीं हो पाएं। आपकी समस्याएं और बड़ी होती चली गयीं और आप मन ही कभी सरकार को तो कभी खुद को कोसते रह गए।

SBA विशेष

तालाबों की सफाई की याद बार-बार दिलाते रहे बापू

गांवो के तालाब से स्त्री और पुरूष सब स्नान करने, कपड़े धोने, पानी पीने तथा भोजन बनाने का काम लिया करते हैं। बहुत से गांवों के तालाब पशुओं के काम भी आते हैं। बहुधा उनमें भैंसे बैठी हुई पाई जाती हैं। आश्चर्य तो यह है कि तालाबों का इतना पापपूर्ण दुरुपयोग होते रहने पर भी महामारियों से गांवों का नाश अब तक क्यों नहीं हो पाया है?

समाचार

राष्ट्रपति ने किया पल्स पोलियो कार्यक्रम का शुभारंभ

राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी ने राष्ट्रपति भवन में बच्चों को पोलियो की दवा देकर 2015 के लिए पल्स पोलियो कार्यक्रम की शुरूआत की। 18 जनवरी को राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस के रूप में मनाया जाता है। देश को पोलियो मुक्त बनाने के भारत सरकार की मुहिम के तहत देश भर में पांच साल से छोटे 174 मिलियन बच्चों को पोलियो की दवा दी जाएगी।

समाचार

स्वास्थ्य मसले पर सक्रिय हुई मोदी सरकार!

प्रधानमंत्री ने विशेषकर बच्‍चों के बीच एन्‍सेफ्लाइटिस जैसी बीमारियां फैलने पर गंभीर चिंता जताते हुए अधिकारियों से कहा कि प्राकृतिक आपदाओं और अन्‍य राष्‍ट्रीय आपदाओं की ही भांति इन बीमारियों से भी निपटने का खाका तैयार किया जाना चाहिए।

SBA विशेष

ईलाज के वक्त इन बातों का रखें विशेष ध्यान…

आशुतोष कुमार सिंह राष्ट्र के स्वास्थ्य को लेकर पिछले कुछ महीनों से सरकारी स्तर पर सक्रियता बढ़ी है। सरकार ने नई दवा नीति-2013 को लागू कर दिया है। सरकार दावा कर रही है कि नई दवा नीति लागू होने से दवाइयों के मूल्यों पर अंकुश लगाया जा सकेगा। हालांकि कुछ संगठन एवं बुद्धिजीवी सरकार के […]

Soft Drink
समाचार

अपनी मौत तो नहीं पी रहे हैं!

Ashutosh Kumar Singh for SBA जिस तरह से बाजार ने हमें अपना गुलाम बनाया है, हम भूल गए हैं कि हम जो खा रहे हैं, जो पी रहे हैं वह हमारे स्वास्थ्य के लिए हानीकारक है की नहीं। हम खुद को एक विशेष वर्ग का बताने के लिए अपनी जीवन-शैली को नकारात्मक तरीके से बदलने […]