Category : समाचार

समाचार स्वस्थ भारत अभियान

 कैंसर की 47 दवाओं के दाम कम हुए…

swasthadmin
अनंत कुमार ने जोर देकर कहा, ‘जीवन रक्षक दवाओं की कीमतें घटी हैं’ सरकार चाहे जितना दावा कर ले कि दवा की कीमतों मेें कमी
समाचार

693826 आंगनबाड़ी केन्द्रों में  नहीं है शौचालय!

swasthadmin
एसबीए डेस्क देश में भले ही चारो तरफ स्वच्छता की बात हो रही हो, लेकिन सच्चाई यह है कि अभी भी स्वच्छता के लिए बहुत
आयुष समाचार

देश में कुल 525 हैं आयुष महाविद्याल!

swasthadmin
हाल ही में भारतीय चिकित्सा पद्धति को विस्तारित करने के लिए आयुष मंत्रालय बनाया गया है। आयुष मंत्रालय के अंतर्गत आयुर्वेद, योग-प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी चिकित्सा
समाचार

कैंसर ग्रस्त बच्चों के लिए सरकारी उपचार! 

swasthadmin
एसबीए डेस्क किसी भी देश के लिए स्वास्थ्य एक बहुत बड़ा मसला होता है। लेकिन भारत में स्वास्थ्य का मसला राज्य व केन्द्र सरकारों के
समाचार

इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना

swasthadmin
दुग्धपान कराने वाली महिला को मिलेंगे 6 हजार रूपये एसबीए डेस्क केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका संजय गांधी ने  राज्यसभा को एक
समाचार

नशा अंधेरी गली में ले जाता हैःप्रधानमंत्री

swasthadmin
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अपने रेडियो संबोधन ‘मन की बात’ में नशा से जुड़े तमाम मसलो को उठाया है। प्रधानमंत्री का यह संबोधन देश
समाचार स्वस्थ भारत अभियान

52 और दवाइयों पर कसा एनपीपीए का शिकंजा!

swasthadmin
एसबीए डेस्क राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल्स प्राइसिंग ऑथोरिटी (एनपीपीए)ने अपने नए नोटिफिकेशन में 52 और दवाइयों को जरूरी दवा सूची में डाला है। अब जरूरी दवा सूची
समाचार

स्वास्थ्य मंत्री ने दिया जवाब, फार्मासिस्टों की स्थिति का लिया संज्ञान

swasthadmin
स्वास्थ्य व्यवस्था में फार्मासिस्ट एक बहुत ही महत्वपूर्ण कड़ी हैं। भारतीय दवा उद्योग व सरकारी उदासिनता के कारण यह कड़ी हमेशा से कमजोर रही है
समाचार

तो डॉक्टर साहब नहीं लिख पायेंगे घसीट लिपि!

swasthadmin
डॉक्टरों की घसीट लिपि का मामला संसद में उठा, दवाओं का नाम साफ-साफ लिखने का निर्देश…. SBA DESK तो अब डॉक्टर साहब दवाइयों के नाम
समाचार

गुरदासपुर मामलाः डॉक्टरों ने छिनी 16 मरीजों की  ऑखों की रौशनी!

swasthadmin
60 लोगों की आंखों की रौशनी जाने की आशंका…,10 दिन पहले हुआ था ऑपरेशन एसबीए डेस्क बिलासपुर नसबंदी मामला अभी पूरी तरह शांत भी नहीं