समाचार

रातो-रात ड्रग लाइसेंस बनाने में जुटा औषध प्रशासन!

बिलासपुर के सदर बाजार  स्थित अपोलो फार्मेसी को आनन-फानन में ड्रग लाइसेंस देने की तैयारी!

बिलासपुर/ एसबीए टीम

दवा का खेल!
दवा का खेल!

चौकिए मत! भारत में कुछ भी संभव है। बिलासपुर में जिस अपोलो फार्मेसी के पास कल तक दवा बेचने का लाइसेंस नहीं था, आज उसका लाइसेंस बन गया है! सूत्रो कि माने तो औषध प्रशासन ने रातो-रात अपनी नाक को बचाने के लिए इस फार्मेसी का लाइसेंस बनाया है। गौरतलब है कि कल यानी 6 सितंबर को फार्मासिस्टों की एक टीम ने अपोलो फार्मेसी पर छापा मारा था, साथ में मीडिया के लोग भी थे, तब अपोलो फार्मेसी लाइसेंस नहीं दिखा पाया था। अपोलो फार्मेसी पर काम करने वाले दवा विक्रेताओं ने स्थानीय डॉक्टर से मिलने की बात कही थी।

अब अगर लाइसेंस मिलता है तो यह जानना जरूरी होगा कि आखिर इस दुकान को लाइसेंस किस तारीख से दिया गया है!
ध्यान रहे कि बिलासपुर के फार्मासिस्टों ने दवा बाजार में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ पोल खोलो अभियान की शुरूआत की है। इस अभियान की अगुवाई बिलासपुर से  अभिशेक सिंह व वैभव शास्त्री कर रहे हैं। इस अभियान को पूरे देश के फार्मासिस्टों का समर्थन मिल रहा है। फार्मासिस्टों को जान से मारने की धमकी मिलने के बाद पूरे देश के फार्मासिस्ट संगठन गुस्से में हैं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *