• Home
  • समाचार
  • एंटीबायोटिक्स खाने का सीधा असर दिमाग पर
समाचार

एंटीबायोटिक्स खाने का सीधा असर दिमाग पर

Pills
लंबे समय तक एंटीबायोटिक्स का सेवन वैसे तो साइड इफेक्ट्स को जन्म देता है लेकिन सबसे गंभीर है कि इन दवाओं को खाने से इसका सीधा असर दिमाग पर पड़ता है।
यह सामने आया है हाल ही में जर्नल सेल रिपोट्र्स में प्रकाशित की गई एक रिसर्च में। बर्लिन में मैक्स डेलब्रक सेंटर फॉर मॉलिक्यूलर मेडिसिन में यह रिसर्च की गई है। इसमें बताया गया है कि दिमाग को तेज रखने के लिए आंत में हैल्दी बैक्टीरिया की आवश्यकता होती है।
एक विशेष प्रकार की प्रतिरक्षा कोशिका बेक्टीरिया और दिमाग के बीच मध्यस्थता का काम करती है। आंत और ब्रेन से निकलने वाले हार्मोन सीधा तंत्रिका संपर्क के सहारे एक-दूसरे के साथ संवाद कायम करते हैं।
इस स्टडी में रिसर्चर्स ने एंटीबायोटिक के सहारे चूहे की आंत के माइक्रोबायोम (आंतों में मौजूद जीवाणु) को खत्म कर दिया। एंटीबायोटिक इलाज न पाने वाले चूहों की तुलना में इलाज पाने वाले चूहों के मस्तिष्क के हिप्पोकैंपस में बेहद कम संख्या में नई मस्तिष्क कोशिकाओं (मेमोरी के लिए महत्वपूर्ण) का निर्माण हुआ।
कम कोशिकाओं के निर्माण से इन चूहों की मेमोरी डिफेक्ट पाया गया। साथ ही रिसर्चर्स ने इन चूहों में विशेष प्रतिरक्षा कोशिकाओं एलवाई6सी (एचआई) मोनोसाइट की संख्या में भी कमी दर्ज की।
साभार : राजस्थान पत्रिका
 

Related posts

MTP दवाएं दे रहे हैं 'डॉक्टर साहब'!

swasthadmin

तंदुरुस्ती के लिए सेवा धर्म का पालन जरूरी

swasthadmin

स्वास्थ्य की कुंजी गांधी के राम

Amit Tyagi

Leave a Comment

Login

X

Register