• Home
  • समाचार
  • फ़र्ज़ी फार्मासिस्ट मामले में गुवाहाटी हाईकोर्ट सख्त
समाचार

फ़र्ज़ी फार्मासिस्ट मामले में गुवाहाटी हाईकोर्ट सख्त

Guwahati High Court

गुवाहाटी / नई दिल्ली
जबतक अवैध दवा दुकानो को बंद करने के साथ साथ असम फार्मेसी काउंसिल में रजिस्टर्ड फ़र्ज़ी फार्मासिस्टों को जेल नहीं भेजा जाएगा तबतक हमलोग चैन से बैठने वाले नहीं । ये बातें एसोसिएशन और रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट (एआरपीए) असम के महासचिव जाकिर सिकदर ने स्वस्थ भारत डॉट इन से कही । ज़ाकिर असम फार्मेसी काउंसिल में हुवे करीब 3 हज़ार फ़र्ज़ी रजिस्ट्रेशन पर करवाई की मांग कर रहे थे ।
असम रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सोफियर रहमान खान ने बताया की असम फार्मेसी कौंसिल द्वारा ३ हज़ार फार्मासिस्ट को जांच में फ़र्ज़ी करार दिया गया था । स्टेट कौंसिल ने डिटेल काउंसिल की वेबसाइट पर डाला था । रजिस्ट्रार द्वारा पहले तो एफआईआर की बात कही गई । पर अबतक दोषियों पर कोई करवाई नहीं की गई है । सोफियर रहमान ने स्टेट कौंसिल पर दोषियों को बचाने का आरोप लगाया है ।
गुवाहाटी हाई कोर्ट ने लिया संज्ञान 
इधर ज़ाकिर सिकदर की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुवे गुवाहाटी हाई कोर्ट ने असम सरकार को फटकार लगते हुवे असम के हेल्थ सेक्रेटरी, असम फार्मेसी कौंसिल के रजिस्ट्रार, फार्मेसी काउंसिल ऑफ़ इंडिया (नई दिल्ली) समेत ड्रग कंट्रोलर जेनेरल ऑफ़ इंडिया को नोटिस भेज कर जबाब माँगा है । वकीलों के अनुसार समय पर जबाब नहीं देने की स्थिति में कोर्ट की अवमानना के आरोप में अदालत की ओर से सम्मन जारी किया जाएगा ।
विगत कुछ महीने पहले ही प्रसन्ना कुमार शर्मा ने असम फार्मेसी काउंसिल के रजिस्ट्रार का पदभार ग्रहण किया था । पद पर आते ही उन्होंने फ़र्ज़ी फार्मासिस्टों की खोजबीन करनी शुरू की थी प्रसन्ना शर्मा ने बताया की 754 फ़र्ज़ी फार्मासिस्टों पर एफआईआर की जा चुकी है। जबकि करीब 3 हज़ार फ़र्ज़ी फार्मासिस्ट होने की सम्भावना जताई प्रसन्ना ने बताया की उन्हें गुवाहाटी हाईकोर्ट का नोटिस मिल चूका है । उन्होंने हाईकोर्ट के आदेश को फार्मेसी काउंसिल ऑफ़ इंडिया की रजिस्ट्रार अर्चना मुगदल को भेज दिल्ली भेज कर दिशा निर्देश मांगे है । दिशा निर्देश आते ही आगे की करवाई होगी ।
इधर स्वस्थ भारत डॉट इन की दिल्ली टीम ने जब पीसीआई की रजिस्ट्रार अर्चना मुगदल से बात करनी चाही तो कहा की मिडिया से बात करने की इज़ाज़त उन्हें नहीं है ।

Related posts

पत्नी की लाश के लिए चार दिनों से गुहार लगा रहा है महादेव भगत, पुवाल का पुतला बनाकर अंत्येष्टि की तैयारी

Indian researchers find insulin clue to Huntington’s

swasthadmin

आयुर्वेदिक डॉक्टर ही इस पद्धति पर पूर्ण भरोसा नहीं करते: प्रधानमंत्री 

swasthadmin

1 comment

zakir sikder September 30, 2015 at 4:17 pm

Execellent vinay ji. We are able to creat new era here at assam for the profession.

Reply

Leave a Comment

Login

X

Register