SBA विशेष

केवल रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट ही करेंगे होलसेल दवा कारोबार…

सरकार के इस योजना से फार्मासिस्टों में खुशी का माहौल

पिछले कई वर्षों से फार्मासिस्ट यह मांग कर रहे हैं कि जहां दवा वहां फार्मासिस्ट होना जरूरी है। इस ओर सरकार का ध्यान अब गया है। सरकार अब होलसेल बिक्री के लिए भी फार्मासिस्टों की अऩिवार्य बनाने जा रही है। सरकार के इस फैसले का स्वागत स्वस्थ भारत अभियान भी करता है।

जहां दवा वहां फार्मासिस्ट
जहां दवा वहां फार्मासिस्ट

नई दिल्ली/

अबतक फार्मासिस्टों की मांग केवल रिटेल सेक्टर तक सिमित थी। सरकार ने नियम कानून में संसोधन कर अब होलसेल ड्रग लाइसेंस में फार्मासिस्टों की अनिवार्यता को हरी झंडी दे दी है! पहले मात्र दसवीं पास व्यक्ति को भी बड़ी आसानी से थोक कारोबार हेतु ड्रग लाइसेंस मिल जाते थे ।  लम्बे अर्से से फार्मासिस्ट रिटेल के साथ ही होलसेल ड्रग लाइसेंस में भी रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट की अनिवार्यता की मांग कर रहे थे ! आख़िरकार उनकी मांगों पर केंद्र सरकार का ध्यान गया और ड्रग टेक्निकल एडवाइजरी बोर्ड ने इस सन्दर्भ में अपना रुख साफ कर दिया है। जल्द ही फैसले को लागू करने का प्रस्ताव दिया है ! इस खबर से जहाँ एक तरफ फार्मासिस्ट संगठनो में उत्सव का माहोल है वही दूसरी इस खबर से केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट संगठनों के होश उड़े हुए हैं! दवा बाज़ार में मायूसी का माहौल है। उधर फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया ने भी सरकार के इस रूख का समर्थन किया है।

आइये देखते हैं किसने क्या कहा-

सरकार के फैसले का स्वागत करते हैं ! इसके दूरगामी परिणाम होंगे ! फार्मासिस्टों में व्यवसाय के प्रति रूचि बढ़ेगी बेरोजगारी कम होगी ! – अंजनी कुमार, पूर्व ड्रग कंट्रोलर, झारखण्ड

जबतक यह पूरी तरह से लागू नहीं होे जाता है, हमलोग चैन से बैठने वाले नहीं है। सरकार को चाहिए कि वह इसे जल्द से जल्द लागू करे।- धर्मेन्द्र सिंह, अध्यक्ष, सिंहभूम फार्मासिस्ट एसोसिएशन, झारखंड

दवा की देखरेख केवल एक फार्मासिस्ट ही बेहतर तरीके से कर सकता है। गैर-फार्मसिस्ट को दवा की रख-रखाव की जानकारी नहीं होती है। कई बार वैक्सीन को उचित तापमान में स्टोरेज नहीं करने से दवा जहरीली हो जाती है। गैर फार्मसिस्ट को इस बात की जानकारी नहीं होती वे दवा को भी अन्य वास्तु की तरह समझते है !- उमेश खके, अध्यक्ष, यूनियन ऑफ़ रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट, महाराष्ट्र

बहुत खुश हूं। सरकार अगर ऐसा सोच रही है तो यह सराहनीय प्रयास है। हम सभी फार्मासिस्ट सरकार के इस फैसले का स्वागत करते हैं।-सर्वेश्वर शर्मा, अध्यक्ष, फार्मासिस्ट जागृति संस्थान, राजस्थान

उत्तरप्रदेश में रिटेल से ज्यादा होलसेल लाइसेंस जारी किये गए हैं ! दवा माफिया होलसेल लाइसेंस बना कर रिटेल मेडिकल शॉप दुकान चला रहे थे ! इस नए नियम से अनियमितताओं पर काफी हद तक अंकुश लगेगा ! यूपी की सरकार ने ऑनलाइन लाइसेंस शुरू किया है यहाँ हालात तेजी से बदल रहे है ।-अमित श्रीवास्तव, अध्यक्ष, फार्मासिस्ट फाउंडेशन, यूपी

आल इंडिया एसोसिएशन और केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट फार्मासिस्ट की अनिवार्यता की मांग ख़त्म करने पर उतारू थे ! भारत सरकार का यह फैसला हार्मासिस्टों के मुँह पर करारा तमाचा है ! फार्मासिस्टों के अच्छे दिन आ रहे हैं !- विनय कुमार भारती, एक्टिविस्ट

सरकार को चाहिए की जब तक प्रक्रिया पूरी ना हो तबतक स्टेट फ़ूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन को नए होलसेल लाइसेंस बनाने से रोके ! अन्यथा पुराने नियम का हवाला देकर रातों रात लाइसेंस निर्गत कर दिए जायेगे ! फ़ूड और ड्रग डिपार्टमेंट पर भरोसा कतई नहीं किया जा सकता ! –सचिन भालेकर, ग्रीन क्रॉस फाउंडेशन, पुणे (महाराष्ट्र)

यह खबर सुकुनदायी है। लेकिन अभी जबतक पूरी तरह से कानून नहीं बन जाता हमें ज्यादा खुश होने की जरूरत नहीं है।-
कैलाश तांडले, अध्यक्ष महाराष्ट्र रजिटर्ड फार्मासिस्ट एसोसिएशन

इस खबर से हमारी लड़ाई को बल मिलेगा। हमलोग फार्मासिस्टों के हितो की रक्षा के लिए संघर्षरत है। इस सफलता से हमें अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सहुलियत होगी। –सोफिउर रहमान खान, अध्यक्ष, असम रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट एसोसिएशन

सरकार को अब समझ में आ रहा है कि फार्मासिस्ट स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए कितना जरूरी हैं। –विवेक मौर्या , प्रवक्ता, प्रांतीय फार्मासिस्ट एसोसिएशन, मध्यप्रदेश
इस खबर का हम स्वागत करते हैं। सरकार से उम्मीद करते हैं कि वो इसे जल्द कानून के रूप में लेकर आयेगी। –पैटर्न राज, अध्यक्ष तमिलनाडु फार्मासिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन

फार्मासिस्टों को स्वास्थ्य व्यवस्था से दूर करने की साजिश की जा रही है। इस बीच में यह खबर सुकुनदायी है। लेकिन हमें पहले से और सतर्क रहने की जरूरत है।- राम प्रवीण, अध्यक्ष, गुजरात फार्मासिस्ट एसोसिएशन

सही समय है। अब फार्मासिस्टों को एकजुट होना चाहिए। और आपस की कड़वाहट को भूलाकर एक मंच पर आने की जरूरत है तभी हम अपने अधिकारों को प्राप्त कर पायेंगे। –राहुल वर्मा, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ यूथ फार्मासिस्ट एसोसिएशन

गौरतलब है कि होलसेल में फार्मासिस्ट की अनिवार्यता की मांग  इंडियन फार्मासिस्ट ग्रेजुएट एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अतुल कुमार नासा ने की थी! अतुल कुमार नासा काफी दिनों से इसके लिए संघर्ष कर रहे थे। देश भर के फार्मासिस्ट संगठनों ने सरकार का आभार व्यक्त किया है ।

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें
आशुतोष कुमार सिंह
आशुतोष कुमार सिंह भारत को स्वस्थ देखने का सपना संजोए हुए हैं। स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर पत्र-पत्रिकाओं में अनेक आलेख लिखने के अलावा वह कंट्रोल एमएमआरपी (मेडिसिन मैक्सिमम रिटेल प्राइस) तथा 'जेनरिक लाइये, पैसा बचाइये' जैसे अभियानों के माध्यम से दवा कीमतों व स्वास्थय सुविधाओं पर जन जागरूकता के लिए काम करते रहे हैं। संपर्क-forhealthyindia@gmail.com, 9891228151
http://www.swasthbharat.in

35 thoughts on “केवल रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट ही करेंगे होलसेल दवा कारोबार…”

    1. विनोद जी नमस्कार। आप इस पूरे मूवमेंट के बारे में एक छोटा सा लेख लिखकर प्रेषित कीजिये। हम उसे यहां पर प्रकाशित करेंगे।
      सादर
      आशुतोष कुमार सिंह
      संपादक, स्वस्थ भारत डॉट इन

  1. Jay Pharmacist

    Pharmacist is the heart of the hospital. The important link between Dr n Patients as well Pharmacist plays an important role to run hospital by Management of Drug inventory n instruments n other necessary things.
    Pharmacist must have unique identity n status like foreign country.

    We Pharmacist give life to medicine.

    Jay Pharmacist.

प्रातिक्रिया दे

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.