फार्मा सेक्टर

बिहार में फार्मेसी छात्रों का प्रदर्शन ! पीसीआई हुई रेस

 

हॉस्टल में प्रदर्शन करते छात्र
हॉस्टल में प्रदर्शन करते छात्र

 

फार्मेसी पेशे की गिरती साख को लेकर गवर्नमेंट फार्मेसी इंस्टिट्यूट पटना के छात्रों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है ! बिहार स्टेट फार्मासिस्ट एसोसिएशन के बैनर तले फार्मेसी के छात्रों ने हॉस्टल के बाहर प्रदर्शन किया ! बड़ी संख्या में स्टूडेंट हाथों में तख्तियां लिए इक्कठा हुवे और जोरदार नारेबाजी की ! फार्मेसी के छात्र राज्य में फार्मेसी की गिरती साख को लेकर नाराज चल रहे हैं ! नेतृत्व कर रहे रजत राज ने सरकार  को चेताते हुवे कहा कि  अगर सरकार  नहीं चेती तो आगे उग्र आंदोलन किया जाएगा !

इन मांगो लेकर किया प्रदर्शन

१. जहाँ दवा वहां फार्मासिस्ट की तर्ज़ पर फार्मसिस्ट की नियुक्ति की जाए !
२. सरकारी अस्पतालों में रिक्त पद तुरंत भरे जायें !
३. बिहार स्टेट फार्मेसी कौंसिल और स्टेट एफडीए को तुरंत ऑनलाइन किया जाए !
४. प्रदेश में में चल रही अवैध दवा दुकानों को बंद कराया जाए !
५. प्रत्येक मेडिकल स्टोर में फार्मासिस्ट की मौजूदगी सुनिश्चित की जाए !
६. छात्रों में मिलने वाला स्टाइपेन बढ़ाया जाए !
इन संगठनों के किया समर्थन

बिहार में फार्मेसी छात्रों के समर्थन में इंडियन फार्मेसी ग्रेजुएट एसोसिएशन उठ खड़ी हुई है ! संगठन के प्रेसिडेंट बिनोद कुमार ने छात्रों की मांगो को जायज बताते हुवे सरकार से बात करने को कहा है ! वही छात्रों के समर्थन में सिंघभूम फार्मासिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह ने कहा की बिहार में छात्रों की मदद के लिए हर संभव मदद की जायेगी !

पीसीआई हुई रेस

पीसीआई की सचिव अर्चना मुग्दल ने पटना में छात्रों को एक रूपये स्टाइपेन दिए जाने पर हैरानी जताई है ! पीसीआई सचिव ने कहा है की इस मामले को लेकर बिहार सरकार को पत्र लिखा जाएगा !

प्रदर्शन करने वाले छात्रों में सादाब चाँद , अनवर , प्रदीप कुमार, अरविन्द कुमार , रंजन कुमार , अभिषेक कुमार, गौरव कुमार , जीतेन्द्र रजक, सौरव कुमार , मोहन महतो , रौशन राज , विकाश कुमार , सीतेश , श्रवण  कुमार , अविनाश कुमार समेत सैकड़ों छात्र छात्राएं  शामिल  थे !

 

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें
swasthadmin
देश के लोगों में स्वास्थ्य चिंतन की धारा को प्रवाहित करना, हमारा प्रथम लक्ष्य है। प्रत्येक स्तर पर लोगों का स्वास्थ्य ठीक रहना और रखना जरूरी है। इस दिशा में ही एक सार्थक प्रयास है स्वस्थ भारत डॉट इन। यह एक अभियान है, स्वस्थ रहने का, स्वस्थ रखने का। आप भी इस अभियान से जुड़िए। स्वस्थ रहिए स्वस्थ रखिए।
https://www.swahbharat.in

3 thoughts on “बिहार में फार्मेसी छात्रों का प्रदर्शन ! पीसीआई हुई रेस”

  1. हम सभी ने केमिस्ट आंदोलन को भी करारा जवाब दिया है और राज्य में जल्द से जल्द मैनुअल रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को समाप्त कर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की मांग की है हर मेडिकल स्टोर पर दवा बाँटते समय pharmacist दुकान पर अनिवार्य रूप से रहें एक फार्मासिस्ट केवल 8 घंटा ही कार्य किया जाए वैसे प्राइवेट हॉस्पिटल जो 24 घंटे खुले रहते हैं उनमें सिफ्ट के अनुसार से फर्मासिस्ट नियुक्त किए जाएं

प्रातिक्रिया दे

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.