समाचार

मन की बात कार्यक्रम में बोले प्रधानमंत्री, भारतीय चिकित्सकों ने पूरी दुनिया में अपनी की पहचान कायम की है

प्रधानमंत्री ने आज अपने मन की  बात में योग दिवस की व्यापकता की चर्चा की। साथ ही उन्होंने कहा कि योग सभी सीमाओं को तोड़कर जोड़ने का काम करता है। उन्होंने कहा कि दुनिया के लोगों ने मिलकर इस अवसर को उत्सव बना दिया यह देश के लोगों के लिए गर्व की बात है। सुरक्षा बलों की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि  जल, थल एवं वायु में सभी जगह योग किया गया। अहमदाबाद में 750 दिब्यांगों द्वारा योग किए जाने की भी उन्होंने चर्चा की। भारत की वसुधैव कुटुंकम की भावना को योग ने सिद्ध कर के दिखाया है। आशा व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि योग से वेलनेस की मुहिम और आगे बढ़ेगी।

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें
आयुष काम की बातें

निरोगी काया के लिए जरूरी है कार्यस्थलों पर योग

योग बाजार में योग सिखाने वाले शिक्षकों की मांग देश ही नहीं विश्व के अन्य देशों में भी बढ़ रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार सिर्फ अमेरिका में 76, 000 रजिस्टर्ड योग शिक्षक हैं और इसके साथ 7000 योग के स्कूल जुड़े हुए हैं। Yoga Alliance से 2014 से 2016 के बीच 14, 000 नये योग शिक्षक जुड़े। एसोचैम की रिपोर्ट के अनुसार देश में योग की मांग आने वाले वर्षों में 30-40 प्रतिशत प्रति वर्ष की दर से बढ़ने का अनुमान है। एसोचैम की इसी रिपोर्ट में कहा गया है कि योग की शिक्षा देने वालों की मांग 30-35 प्रतिशत प्रति वर्ष की दर से बढ़ने का अनुमान है। योग के ब्रांड अम्बेस्ड्र बाबारामदेव की बात न की जाये तो बात अधूरी है निसंदेह बाबा रामदेव का बहुत बड़ा योगदान है योग को विश्व पटल पर लाने का। आज बाबा लाखो नौजवानो के प्रेरणा है कल तक जिस योग को दुनिया करतब और सरकर्स कहने से नहीं झिझकती थी आज उन सबकी नजरे हमारी तरफ एक उम्मीद से देख रही है की कैसे योग के माध्यम से हम संसार को तनावमुक्त और निरोगी काया दे रहे है।

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें
SBA विशेष आयुष

नारी व योग

  Ira Singh For Swasthbharat.in सभी तरह के वैज्ञानिक विकास और चिकित्सकीय सुविधायों के बावजूद आदमी के दर्द कम नहीं हुए है। मुख्यतः औरते जिन्हें अब और अधिक कार्य भार का सामना करना पड़ा रहा है, घर-गृहस्थी की जिम्मेदारी के साथ साथ करिअर और बदलते सामाजिक ढांचे से उत्पन्न स्थितियों का भी सामना करना पड़ […]

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें