• Home
  • स्वस्थ भारत अभियान

Tag : स्वस्थ भारत अभियान

SBA विशेष समाचार

स्‍वच्‍छता स्‍वभाव में परिवर्तन का यज्ञ है

आशुतोष कुमार सिंह
स्वच्छता  ही सेवा का संकल्प ले हर भारतीय हर कोने से जुड़े आप सभी स्‍वच्‍छाग्रहियों का हृदय से अभिनंदन करता हूं, आप सबका स्‍वागत करता
SBA विशेष

विश्वास कीजिए! इसी इंटरनेशनल घर में रखी जाती है जनऔषधि

 गुरुग्राम के बिलासपुर में स्थित है 65 हजार वर्ग फूट में बना केन्द्रीय जनऔषधि भंडारण केन्द्र   आशुतोष कुमार सिंह जनऔषधि के गुणवत्ता को लेकर
समाचार

हाइटेक हुई वितरण प्रणाली, जनऔषधि संचालकों को राहत

swasthadmin
जनऔषधि केन्द्रों पर दवाइयां नहीं पहुंचने की शिकायत का हाइटेक निदान पीएमबीजेपी ने ढूंढ़ लिया है। नई योजना के तहत अब जनऔषधि केन्द्र संचालक अपना
समाचार

मोबाइल एप बतायेगा जनऔषधि केन्द्रों का पता

महंगी दवाइयों के कारण देश में लोग गरीबी रेखा से ऊबर नहीं पा रहे हैं। साथ ही जो निम्न मध्यम वर्ग है वो भी गरीबी
SBA विशेष

देश को ब्रांड नहीं, जनऔषधि की है जरूरत

जेनरिक दवा और ब्रांडेड को लेकर जो भ्रम पैदा किया जा रहा है, उसे भी समझने की जरूरत है। पेंटेंट मुक्त मेडिसिन को जेनरिक मेडिसिन
SBA विशेष समाचार स्वास्थ्य की बात गांधी के साथ

स्वास्थ्य की बात गांधी के साथः 1942 में महात्मा गांधी ने लिखी थी की ‘आरोग्य की कुंजी’ पुस्तक की प्रस्तावना

swasthadmin
‘स्वास्थ्य की बात गांधी के साथ’ सीरीज के तीसरे आलेख के रूप में हम 'आरोग्य की कुंजी' पुस्तक की प्रस्तावना दे रहे हैं। इसमें महात्मा
SBA विशेष समाचार स्वास्थ्य की बात गांधी के साथ

स्वास्थ्य की बात गांधी के साथः महात्मा गांधी के स्वास्थ्य चिंतन ने बचाई लाखों बच्चों की जान

swasthadmin
प्‍यारे देशवासियों, 2014 में इसी लाल किले की प्राचीर से जब मैंने स्‍वच्‍छता की बात की थी, तो कुछ लोगों ने इसका मजाक उड़ाया था,
SBA विशेष समाचार स्वास्थ्य की बात गांधी के साथ

आओ शुरू करें, स्वास्थ्य की बात गांधी के साथ

सच यह भी है कि गांधी को स्वास्थ्य चिंतक के रुप में हम और आप कम ही जानते हैं। गांधी को समझना है तो उनके
समाचार

मनसुख भाई मांडविया की पाठशाला में जनऔषधि से जुड़े कर्मचारियों की लगी क्लास…

रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख भाई मांडविया ने पिछले दिनों बीपीपीआई के झंडेवालान दफ्तर गए थे। प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना की प्रोगरेस रिपोर्ट की
SBA विशेष

एमआर को ब्राइब एजेंट न समझें

swasthadmin
मेरे 25 साल के अनुभव यह कहते हैं कि सरकार यदि चाहे तो ब्रांडेड दवाओं को भी मौजूदा व्यवस्था के तहत ही मरीजों को सस्ते

Login

X

Register