समाचार

बिनोद कुमार को मिला 2015 फेलोशिप अवार्ड

जबतक देश भर में ड्रग लाइसेंस प्रक्रिया को ऑनलाइन नहीं किया जाएगा तबतक फार्मा जगत की मुश्किलों को ख़त्म नहीं किया जा सकता है । बिनोद कुमार एयर फ़ोर्स ऑडिटोरियम में आईपीजीए द्वारा आयोजित 30 वें राष्ट्रीय सम्मलेन में बोल रहे थे। सभा को सम्बोधित करते हुवे बिनोद कुमार ने ड्रग लाइसेंस से कम्पीटेंट पर्सन की जगह रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट करने के साथ साथ, फार्मेसी रिकॉर्ड और ड्रग लाइसेंस ऑनलाइन करने की मांग दुहराई। बतातें चलें की बिनोद कुमार हमेशा से ही फार्मासिस्ट हितों की बात बड़े मंच पर उठाते रहे है।

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें