समाचार

झुग्गी झोपड़ी में चलती है दवा की दुकानें…

असम समेत पूर्वोत्तर राज्यों में हज़ारों की संख्या में अवैध मेडिकल दुकानें चल रही हैं। एक आकंड़े के मुताबिक असम में करीब अट्ठारह हज़ार से ज्यादा दवा दुकान हैं। दवा दुकानों में आठवी दसवीं पास फेल लोग दवा बाँटते नज़र आते है। मेडिकल स्टोर में फार्मासिस्ट की मौजूदगी ना के बराबर है, वही हज़ारों की संख्या में ऐसी भी दवा दुकाने हैं, जो बगैर किसी लाइसेंस के चल रही हैं। इतने व्यापक पैमाने पर धांधली से एक बात तो स्पस्ट है कि दवा बाजार पर दवा माफियाओं का राज चल रहा है। औषधी नियंत्रण प्रशासन बौना बना हुवा है या फिर अपराधियों को संरक्षण दे रहा है। शिकायत के बावजूद भी कारवाही का ना होना असम सरकार की नाकामी दर्शाता है …

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें
समाचार

फ़र्ज़ी फार्मासिस्ट मामले में गुवाहाटी हाईकोर्ट सख्त

जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुवे गुवाहाटी हाई कोर्ट ने असम सरकार को फटकार लगते हुवे असम के हेल्थ सेक्रेटरी, असम फार्मेसी कौंसिल के रजिस्ट्रार, फार्मेसी काउंसिल ऑफ़ इंडिया (नई दिल्ली) समेत ड्रग कंट्रोलर जेनेरल ऑफ़ इंडिया को नोटिस भेज कर जबाब माँगा है ।

यदि लेख/समाचार से आप सहमत है तो इसे जरूर साझा करें