• Home
  • समाचार
  • भूखमरी की कगार पर अरुणाचल के एनएचएमकर्मी, बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर…
समाचार

भूखमरी की कगार पर अरुणाचल के एनएचएमकर्मी, बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर…

नई दिल्ली में एक ओर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री  जे.पी. नड्डा एनएचएम कर्मियों की तारीफ करते हैं, वही देश के दूसरे हिस्से में एनएचकर्मी भूखमरी  की कगार पर हैं। उन्हें मजबूरन हड़ताल पर जाना पड़ता है। आखिर अरुणाचल प्रदेश के साथ ऐसा भेदभाव क्यों कर रही है सरकार। क्या इसलिए की दिल्ली उनके लिए दूर है…जंतर-मंतर पर धरना देने आने में उन्हें सोचना पड़ेगा! लेकिन सच्चाई यह है कि पेट की आग बहुत बड़ी चीज होती है। सरकार को इस दिशा में त्वरित कार्रवाई करनी चाहिए। संपादक
ईटानगर /नई दिल्ली (11.12.2015)
अरुणाचल प्रदेश के एनएचएम कर्मचारी अनिश्चित काल के लिए हड़ताल पर चले गए हैं। हड़ताल का नेतृत्व कर रहे अरुणाचल प्रदेश एनएचएम एम्प्लॉई एसोसिएशन के अध्यक्ष ताडे गुम्जा ने स्वस्थ भारत डॉट इन को बताया कि कर्मचारियों को विगत जून महीने से वेतन नहीं मिला है। एसोसिएशन के सदस्यों ने कई बार सरकार से गुहार लगाई इसके बावजूद सरकार ने कोई सुनवाई नहीं की ! संगठन के सचिव रोहित जमोह ने कहा कि एनएचएम कर्मचारियों के सामने भुखमरी की समस्या आ गई है, विगत कई महीनो से कर्मचारी वेतन के बगैर अपनी सेवा दे रहे थे,  पिछले हफ्ते संगठन के कोर कमिटी ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का फैसला किया उन्होंने बताया की सरकार को इसकी सूचना दे दी गई है। रोहित ने सरकार को चेताते हुए दो टूक कहा – जब तक सरकार एक-एक कर्मचारी का पूरा वेतन का भुगतान नहीं करेगी हड़ताल जारी रहेगी।
अरुणाचल प्रदेश में तकनिकी और गैर तकनिकी स्टाफ में डॉक्टर, नर्सेस, लैब असिस्टेंट, फार्मासिस्ट समेंत करीब दो हज़ार कर्मचारी हैं। वेतन का भुगतान नहीं किये जाने से कर्मचारियों का आक्रोश इस कदर है की वे किसी सूरत में मानने को तैयार नहीं है। वही दूसरी तरफ अचानक स्वस्थ कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से सरकार के हाथ हाथ पाँव फूल गए है। चूँकि एनएचएम कर्मचारियों की वज़ह से अरुणाचल की स्वास्थ्य व्यवस्था काफी हद तक निर्भर है। हड़ताल पर जाने से मरीज़ो को काफी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।खबर अपडेट किये जाने तक हर ज़िलों में कर्मचारियों की हड़ताल चल रही है। उधर दूसरी तरफ ऑल इंडिया एनएचएम एसोसिएशन ने इस हड़ताल का समर्थन किया है। एसोसिएशन के  राष्ट्रीय अध्यक्ष विनय गुप्ता ने कहा कि एनएचएम कर्मी भूख से मरें, यह न्याय नहीं है!
कैमरे की नज़र में हड़ताल
प्रदर्शन करते एनएचएम कर्मी
 
IMG-20151211-WA0034
 
IMG-20151211-WA0032
IMG-20151211-WA0029
IMG-20151211-WA0007
IMG-20151211-WA0009
 
IMG-20151211-WA0039
 
IMG-20151211-WA0013
 
IMG-20151211-WA0035
 
IMG-20151211-WA0033
स्वास्थ्य सम्बन्धी खबरों से जुड़े रहने के लिए स्वस्थ भारत अभियान की पेज को लाइक कर दें !

Related posts

अभिनव फार्मेसी अभियान ने दिय़ा जोर का झटका

swasthadmin

One more step towards the success of Swasth Balika- Swasth Samaj yatra 2016

swasthadmin

फार्मासिस्टों ने मनाया ब्लैक डे

Vinay Kumar Bharti

Leave a Comment

Login

X

Register