देश के 201 जिले हुए ओडीएफ मुक्त, स्वच्छता ही सेवा है का मंत्र कर रहा है काम

स्वच्छता ही सेवा है…

खुले में शौच की बुराई के विरुद्ध पूरे देश में ‘स्वच्छता ही सेवा’ को प्रोत्साहित करने वाला सहयोगी अभियान चलाया गया। इससे ग्रामीण स्वच्छता का दायरा बढ़ाने में महत्त्वपूर्ण उपलब्धि मिली है। आज चार और नये जिलों को ओडीएफ घोषित किये जाने के साथ ही देश में ऐसे जिलों की संख्या बढ़कर 201 हो गई है।

स्वच्छता ही सेवा मुहीम के एक हफ्ते के बाद बॉलीवुड सितारों का सहयोग भी इस आंदोलन को मिला है। माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान के बाद सुपरस्टार रजनीकांत ने भी ‘स्वच्छता ही सेवा’ आंदोलन के प्रति अपना पूरा-पूरा समर्थन देने की प्रतिबद्धता जतायी है। फिल्मकार एस.एस. राजामौलि ने भी ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान को अपना पूरा समर्थन दिया है।

ओडिशा के बालासोर में अंतरिम टेस्ट रेंज (आटीआर) चांदीपुर के वैज्ञानिकों और विभागकर्मियों ने झाड़ू हाथ में लिये और सड़कों की साफ-सफाई की। समूचे असम में ‘स्वच्छता ही सेवा है’, के जारी अभियान के अंतर्गत कई गतिविधियां चलाई गई। स्वच्छता अभियान में भाग लेने के लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आमंतण्रपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए प्रख्यात ब्रेस्ट कैंसर विशेषज्ञ पद्मश्री डॉ पी रघुराम (निदेशक, नगर स्थित केआईएमएस, ऊषालक्ष्मी सेंटर एवं अध्यक्ष, ब्रेस्ट कैंसर सर्जन्स ऑफ इंडिया) ने कहा ‘मैंने अपने गोद लिये गांव में स्वच्छता अभियान चलाने का निर्णय किया है। मेरा यह गांव तेलंगाना राज्य के दूर-दराज हिस्से में पड़ता है।’

बिहार में जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्रों ने अपने-अपने स्कूलों को साफ-सुथरा कर ‘स्वच्छता ही सेवा है’ अभियान के प्रति अपना समर्थन जताया। ‘स्वच्छता ही सेवा’ आंदोलन की युवा टीम ने भी स्वच्छता की असंख्य गतिविधियों को अंजाम दिया। भारतीय पर्यटन ने गुजरात पर्यटन विभाग, भारतीय पुरातत्व सव्रेक्षण (एएसआई), अहमदाबाद नगरपालिका कॉरपोरेशन (एएमसी), भारतीय होटल प्रबंधन (आईएचएम), गांधीनगर, ट्रेवल एजेंट्स, टूरऑपरेर्ट्स, होटल मालिकों और मान्यता प्राप्त गाइडों ने वि धरोहर हिलते मीनार स्थल को साफ-सुथरा करने का कार्यक्रम आयोजित किया।

सोर्स-http://pib.nic.in/newsite/PrintHindiRelease.aspx?relid=67288

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *