समाचार

बेटी बचाओ का संदेशवाहक बनी डॉ.राखी अग्रवाल

स्वस्थ भारत की दिशा में एक और अच्छी पहल। यह पहल की है पटना की डॉ.राखी अग्रवाल ने…

नई दिल्ली/12.12.15

डॉ. राखी अग्रवाल अपनी बेटी के साथ
डॉ. राखी अग्रवाल अपनी बेटी के साथ

यदि हम यह कहें कि  पांच वर्ष से कम उम्र की आपकी बच्ची का अल्ट्रासाउंड निजी डायग्नोस्टिक सेंटर में बिना फी दिए करवा देंगे तो क्या आप विश्वास करेंगे! शायद नहीं। लेकिन यह सच है। इसे सच साबित किया है कि पटना में रहने वाली डॉ.राखी अग्रवाल ने। एम.डी रेडिलॉजिस्ट के रूप में ख्याति प्राप्त कर रही राखी अग्रवाल ने घोषणा की है कि वे अपने अल्ट्रासाउंड सेंटर पर पांच वर्ष से कम आयु की बच्चियों का अल्ट्रासाउंड निःशुल्क करेंगी।
डॉ. राखी अग्रवाल इन दिनों पटना में अपनी प्रैक्टिस कर रही हैं। राखी अग्रवाल ने  0-5 वर्ष तक बच्चियों का अल्ट्रासाउंड का फी न लेने की घोषणा जैसे ही शुक्रवार को की, उनकी इस पहल को सोशल मीडिया ने हाथो हाथ लिया। स्वस्थ भारत अभियान से बात करते हुए उन्होंने कहा कि वे चाहती हैं कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का संदेश घर-घर तक जाएं। वे चाहती हैं कि अपनी संतान कोई इसलिए अपनी कोख में ही न मार दे क्योंकि वो बेटी है। बेटियो की सम्मान के लिए उन्होंने यह फैसला लिया है।
पटना के नाला रोड स्थित आरोग्य मंदिर अस्पताल के प्रांगण में डॉ. अग्रवाल ने अपना अल्ट्रासाउंड क्लिनिक खोला है इनर विजन के नाम से खुले इस सेंटर में अब पांच वर्ष तक की बच्चियों का अल्ट्रासाउंड फी नहीं लगेगा। अपने इस फैसले के बारे में बताते हुए डॉ. अग्रवाल कहती हैं कि वे पुणे के डॉ. गणेश राख के बेटी बचाओ आंदोलन से बहुत प्रभावित हैं और उनके मार्गदर्शन में ही उन्होंने अपने यहां बच्चियों के अल्ट्रासाउंड  फी न लेने का फैसला किया है। बेटी बचाओ आंदोलन को जनआंदोलन बनाने की बात करते हुए डॉ अग्रवाल ने कहा कि यदि हम सब सांकेतिक रूप से इस मैसेज को घर-घर पहुंचाने में सफल रहे तो निश्चित रुप से एक दिन वो आयेगा जब बेटियो के प्रति समाज के नज़रिए में सकारात्मक बदलाव देखा जा सकेगा। अपने अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने कहा कि, वैसे भी मेरे यहां जो दंपत्ति आते हैं उनका सोशल काउंसेलिंग मैं करती हूं। मेरी भी एक बेटी है, मेरा हमेशा से यह मानना है कि बेटियो का सम्मान बढ़ेगा तो राष्ट्र का सम्मान बढ़ेगा।
बधाइयों का लगा ताता
डॉ. राखी अग्रवाल के इस पहल की चर्चा जहां एक ओर सोशल मीडिया पर जोर-शोर से हो रही है वहीं दूसरी तरफ पुणे के डॉ. गणेश राख ने उन्हें बधाई देते हुए कहा कि इससे बेटी बचाओ अभियान को ताकत मिलेगी व लोगों के मन में बेटियो के प्रति  सकारात्मक भाव जन्म लेगा। वहीं पटना के वरिष्ठ पत्रकार ज्ञानेश्वर वात्सयायन ने भी इस पहल का स्वागत किया है। डॉ. अग्रवाल के इस पहल पर खुशी जाहिर करते हुए स्वस्थ भारत अभियान की टीम ने अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की है।
—————————————————————————–
मिलिए डॉ. गणेश राख से

बेटी होने पर अपने अस्पताल में बांटते हैं मिठाइयां…

Related posts

अंगदान एक सामाजिक आंदोलन बनना चाहिए, अंग दान जीवन का एक उपहार है: जे.पी.नड्डा…

swasthadmin

28 सितंबर को लखनऊ में फार्मासिस्टों की महारैली

Vinay Kumar Bharti

दिल्ली चुनाव में स्वास्थ्य होगा मुख्य मुद्दा!

swasthadmin

1 comment

dr umesh nandan sinha December 13, 2015 at 8:04 am

Praise worthy

Reply

Leave a Comment