• Home
  • समाचार
  • हाइटेक हुई वितरण प्रणाली, जनऔषधि संचालकों को राहत
समाचार

हाइटेक हुई वितरण प्रणाली, जनऔषधि संचालकों को राहत

  • केन्द्रीय भंडारण केन्द्र से जनऔषधि केन्द्रों को डायरेक्ट दवा भेजने  की प्रक्रिया शुरू

  • गुवाहाटी में खुला पहला क्षेत्रीय भंडारण केन्द्र

नई दिल्ली/23.08.17
आशुतोष कुमार सिंह
जनऔषधि केन्द्रों पर दवाइयां नहीं पहुंचने की शिकायत का हाइटेक निदान पीएमबीजेपी ने ढूंढ़ लिया है। नई योजना के तहत अब जनऔषधि केन्द्र संचालक अपना ऑर्डर हाइटेक तरीके से दे सकेंगे। पीएमबीजेपी के अंतर्गत खुले सभी जनऔषधि केन्द्रों को एक ऐसे साफ्टवेयर से जोड़ा जा रहा है, जिससे वे अपना ऑर्डर सीधे दे सकेंगे। आर्डर मिलने के 24 घंटे में पीएमबीजेपी के दवा भंडारण केन्द्र से दवाइयों को जनऔषधि केन्द्रों के लिए डिस्पैच कर दिया जायेगा। इस तरह 7-10 दिनों के अंदर दवा की आपूर्ति हो सकेगी।

गुड़गांव के बिलासपुर स्थित केन्द्रीय भंडारण केन्द्र का निरिक्षण कराते पीएमबीजेपी के सीइओ सचिन कुमार सिंह, साथ में पत्रकारों की टीम

ध्यान देने वाली बात यह है कि दवा की आपूर्ति में पहले 3-3 महीने कई बार तो 6-6 महीने का वक्त लग जाता था। इसके कारण जनऔषधि केन्द्र चला रहे विक्रेताओं को जनऔषधि के लाभार्थियों से भारी रोष का सामना करना पड़ रहा था। इसको लेकर देश के तमाम जनऔषधि केन्द्र संचालक स्वस्थ भारत डॉट इन को अपनी व्यथा साझा करते रहे हैं। स्वस्थ भारत डॉट इन ने ‘जनऔषधि केंद्रों तक नहीं पहुंच रही दवाइयां, अब ऐप से मिलेगी मदद!’ शीर्षक से पहले ही आपूर्ति की समस्या को उजागर किया था।
हाइटेक वितरण प्रणाली
प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के सीइओ सचिन कुमार सिंह ने स्वस्थ भारत डॉट इन से विशेष बातचीत में कहा कि आपूर्ति की समस्या का समाधान करने की दिशा में सरकार बहुत सक्रीय है। तकनीक आधारित वितरण प्रणाली को हम अपना रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभी तक हम 8 सीएनएफ एवं 53 डिस्ट्रीव्यूटर के जरिए अपना आपूर्ति की व्यवस्था करते रहे हैं लेकिन  अब हम एसएपी (सैप) आधारित सॉफ्टवेयर की मदद से एंड टू एंड आपूर्ति चेन की ओर बढ़ रहे हैं। अब हम फेज वाइज जनऔषधि केन्द्रों को डायरेक्ट आपूर्ति करने की दिशा में आगे बढ़े हैं। इससे मांग एवं पूर्ति में लगने वाले समय को कम किया जा सकेगा। साथ ही जनऔषधि उपभोक्ताओं को दवा की अनुपलब्धता की शिकायत भी दूर हो जायेगी।
गौरतलब है कि वर्तमान में बिलासपुर, गुड़गांव स्थिति केन्द्रीय भंडारण केन्द्र से सरकार प्रथम फेस में प्रत्यक्ष रुप से दवाइयां जनऔषधि केन्द्रों पर पहुंचा रही है।
गुवाहाटी में खुला पहला क्षेत्रीय भंडारण केन्द्र
क्षेत्रीय भंडार केन्द्र खोलने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। पूर्वोत्तर में आपूर्ति को मजबूत करने के लिए पीएमबीजेपी ने गुवाहाटी में अपना पहला क्षेत्रीय दवा भंडारण केन्द्र खोल दिया है। अगली कड़ी में बंगलोर एवं इंदौर में खुलना बाकी है। इससे दवाइयों की आपूर्ति करने में लगने वाले समय में और कमी आयेगी।

Related posts

किराए पर सर्टिफिकेट दिया तो जेल जाएंगे फार्मासिस्ट

swasthadmin

स्वस्थ भारत जेनरिक दवाइयों की उपलब्धता को लेकर प्रधानमंत्री को लिखे पत्र को आप यहां पढ़ सकते हैं

swasthadmin

The microneedle-based system can take the pain away from vaccinations

swasthadmin

Leave a Comment

Login

X

Register